मंगलवार, 6 अप्रैल 2010

ऐसा होता है कंजूस आदमी.......




कंजूस आदमी का गड़ा हुआ धन

ज़मीं से

तभी बाहर निकलता है

जब वह

स्वयं ज़मीं में गड़ जाता है


- शेख सादी



5 टिप्‍पणियां:

  1. जब वह जमीं में गड़ जाता है
    या मांगने वाला अड़ियल घोड़े सा
    अड़ जाता है

    उत्तर देंहटाएं
  2. चाहे कोई उसकी जान ले ले, पर वह धन नहीं देता क्योंकि वह तो उसने बुढापे के लिये रख छोड़ा होता है। :)

    उत्तर देंहटाएं
  3. lakh takeki bat he saheb






    shekhar kumawat


    http://kavyawani.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं